WWW.BRDSTUDY.ONLINE

Post Top Ad

>

17 मई के बाद शुरू हो सकती है हवाई यात्रा, International & Domestic Flight Start Date

17 मई के बाद शुरू हो सकती है हवाई यात्रा



कोरोना वायरस के कारण लंबे समय तक लोन डाउन के बाद एक बार फिर ट्रेनें चलनी शुरू हो जाएगी। ट्रेनों के बाद अब घरेलू उड़ानें भी शुरू करने की तैयारी चल रही है हवाई यात्रा के दौरान यात्री को किन किन नियमों का पालन करना होगा इसका ड्रॉप एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने तैयार किया है।
17 मई को एकदम खत्म होने के बाद उड़ानों को शुरू किया जा सकता है इसके लिए राज्यों के साथ मीटिंग की जा रही है तैयारियों का जायजा लेने के लिए DGCA नई दिल्ली एयरपोर्ट का जायजा लिया है। नागरिक उड्डयन मंत्रालय चाहता है कि जिस प्रकार ट्रेनों शुरू कर दी गई है उसी तरह हवाई सेवा भी शुरू की जाए। इसलिए पुख्ता इंतजाम के बाद Airline शुरू करने की तैयारी की जा रही है।Airport खुलने के बाद यात्रियों को किन नियमों का पालन करना होगा इसका ड्रॉप Airport authority of india ने तैयार किया है जिसे सभी Airport को भेजा जाएगा।

● सभी Airport परसों से डिस्टेंस का पूरा ध्यान रखना होगा या तेरे को एक से अधिक  मीटर की दूरी पर खड़े रहना होगा।

● सभी को मास पहनना जरूरी है जिसमें जिनमें को राणा का लक्षण नहीं है उन्हें भी जाने जाएगा।

● Airport शुरू होने में केवल 30 पेज 3 क्षमता के साथ ही काम करेंगे अगर बैठना भी है तो 1 सीट छोड़कर बैठना होगा ताकि एक से डेढ़ मीटर की दूरी बनी रहे।

● Security check के बाद ही कुछ रास्ते खुलेंगे लेकिन वहां भी सोचे डिस्टेंसिंग का ध्यान रखना।

● Airport पर एंट्री के साथ-साथ बोर्डिंग वक्त भी स्क्रीनिंग जाएगी।

भारत में Airlines कंपनियां जून के पहले सप्ताह में घरेलू फ्लाइट के लिए टिकटों की बुकिंग शुरू कर देगी। Ministry of civil aviation के एक वरिष्ठ अधिकारी की मानें तो विमान सेवा शुरू करने के 10 दिन पहले की टिकटों की बुकिंग शुरू कर दी जाएगी। घरेलू फ्लाइट के अलावा इंटरनेशनल उड़ाना को भी फिर से शुरू करने को लेकर अभी कोई स्पष्टता नहीं है।
देश में कोरोनावायरस के संक्रमण की स्थिति का आकलन करने के बाद ही उड़ाना को फिर से शुरू किया जाएगा लेकिन इसके लिए जून के पहले हफ्ते में शुरू होने की उम्मीद जताई जा रही है। एबीएसएन कंसलटेंट कैंप इंडिया के अनुसार लॉक डाउन के कारण  देश के विषय क्षेत्र में जून की तिमाही में 3 से 3.6 अरब डॉलर की वृद्धि होने की संभावना है।

No comments:

Post a comment

close