WWW.BRDSTUDY.ONLINE

Post Top Ad

>

REPUBLIC DAY SPEECH IN HINDI FOR STUDENTS,गणतंत्र दिवस भाषण,26 जनवरी पर सबसे अच्छा भाषण

REPUBLIC DAY SPEECH IN HINDI FOR STUDENTS

दोस्तों, आज हम आपको 26th जनवरी पर भाषण बताने जा रहे है जिसे आप अपने विद्यालय में बोल सकते है। इस भाषण को बोलने से आप सभी को मंत्रमुग्ध कर सकते है



अगर आप अपने विद्यालय में रिपब्लिक डे के अवसर पर स्पीच से शुरुआत कर रहे हो और आपको बोलने का अवसर मिला हो, तो एक सुनियोजित स्पीच कैसी है
मंच पर पहुंचकर आप सबसे पहले तो सभा में उपस्थित सभी लोगों का अभिवादन करें, अपना परिचय दें, अपना नाम तथा आप कौन-सी कक्षा में पढ़ते हैं, यह बताएं। अपने स्वयं के स्कूल के अलावा यदि किसी अन्य आयोजन में बोल रहे हैं तो अपने विद्यालय या कॉलेज का नाम भी बताएं। सभी को गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं दें। अपनी क्लास टीचर व प्रिंसिपल या आयोजनकर्ता का धन्यवाद करें जिन्होंने इस महान अवसर पर आपको मंच पर आकर अपने देश के बारे में कुछ बोलने का मौका दिया।



26th JANUARY SPEECH 2020



माननीय मुख्य अतिथि, शिक्षक, माता-पिता और मेरे सभी प्रिय मित्र आप सबको मेरा नमस्कार। मेरा नाम ________ है मैं कक्षा _____ में अध्ययन कर रहा हूं जैसा कि हम सभी जानते हैं कि हम अपने देश के बहुत ही विशेष अवसर पर यहां एकत्रित हुए हैं जिसे भारत का गणतंत्र दिवस कहा जाता है। मैं आपके सामने गणतंत्र दिवस पर एक भाषण देना चाहूंगा। 

मैं गणतंत्र दिवस के इस बड़े अवसर पर हमारे देश के बारे में कुछ कहने के लिए उत्साहित हूं। गणतंत्र दिवस 1950 से 26 जनवरी को मनाया जाता है। आज हम सभी अपने राष्ट्र का 71 वां गणतंत्र दिवस मनाने के लिए यहां आए हैं। 15 अगस्त 1947 से भारत को स्वतंत्रता मिली, जिसे स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाया जाता है। और 26 जनवरी 1950 को, भारत का संविधान लागू हुआ, इसलिए हम इस दिन को भारत के गणतंत्र दिवस के रूप में मनाते हैं।


26 जनवरी को भारतीय संविधान 1950 में इसी दिन लागू हुआ था। गणतंत्र दिवस पर भारत के गेट पर राजपथ पर नई दिल्ली में भारत सरकार द्वारा एक बड़ी व्यवस्था की जाती है। हर साल भारत के प्रधानमंत्री राजपथ पर भारतीय ध्वज फहराने के लिए एक मुख्य अतिथि होते हैं।


भारतीय नेताओं में हमारे महान स्वतंत्रता सेनानियों के नाम महात्मा गांधी, भगत सिंह, चंद्रशेखर आज़ाद, लाला लाजपत राय सरदार वल्लभभाई पटेल, लाल बहादुर शास्त्री आदि हैं। उन्होंने भारत को आज़ाद देश बनाने के लिए ब्रिटिश शासन के खिलाफ हमारे देश से लड़ाई लड़ी।

देश के लिए उनके बलिदान को कोई नहीं भूल सकता। इस महान अवसर पर हम हमेशा उन्हें याद करते हैं और उन्हें सलाम करते हैं। हमें उनकी वजह से यह आजादी मिली। अब हम अपने दिमाग से सोच सकते हैं और बिना किसी एक ताकत के अपने राष्ट्र में स्वतंत्र रूप से रह सकते हैं।


प्रत्येक व्यक्ति को एक प्रयास करना चाहिए और फिर हमारा देश पूरी तरह से एक अलग स्थान होगा। आज इस सर्वव्यापी अवसर पर हम सभी को अपने देश को विश्व में सर्वश्रेष्ठ बनाने के लिए इस समाज में ऐसी समस्याओं के समाधान के लिए संकल्प लेने की आवश्यकता है।

धन्यवाद,जय हिन्द,जय भारत

No comments:

Post a comment

close